अस्सलाम वालैकुम दोस्तों में हु आसिम खान और आप देख रहे हैं महोब्बत का वज़ीफ़ा ( Best wazifas ) । सबसे पहले हम आपको हमारे बारे में बता दे आपको हमारे नाम असीम खान हैं

हम फतेपुर दरगह के बड़े मौलाना हैं और हमारे अब्बू नोखा दरगह के बड़े मौलाना थे
हमने आज तक बहोत लोगो के मसलो के हल किये है और आगे भी ऐसे ही हम अल्लाह तल्लाह
के दिखाए हुआ रस्ते पर ऐसे ही चलते रहेंगे ।

महोब्बत का वज़ीफ़ा ( Best wazifas )

लकिन अब हमें ऐसा लगता हैं की हमारे यहा पर इतने लोग आते हैं अपने मसलो को लेकर हमारे पास तो यहा पर ही लोगो को इतनी तकलीफ और परेशानी हैं तो पुरे देश में और पूरी दुनिया में कितने लोग परेशान होंगे।

हमारी यही कोसिस रहती हैं की जो भी कोई हमारे पास आये हम उसकी पूरी मदत करे।
आज तक ऐसा कभी नहीं हुआ हैं की हमारे पास आया हुआ कोई भी इंसान खली हाथ गया हो।

पर जैसा की हम सब को बताते हैं वो हम आप सभी को फिर से याद दिला देता हैं
यह सब कुछ अल्लाह तल्लाह के हाथो में होता हैं पर उन्होंने हमें दुआ और वज़ीफ़ा करने का हक़ दीया हैं।

हम अपनी तक़दीर खुद लिखते हैं हमें हर जगह और हर रस्ते पर बहोत लोग मिलते हैं
उनमें कुछ अच्छे होते हैं तो कुछ बुरे होते हैं पर यह हमारे हाथो में हैं की हम किस तरफ जायेगा।

हमें कैसा बनना हैं ?

आपको हमरी इस वेबसते पर बहोत ही अचे पाक वज़ीफ़ा और दुआ देखेगी जो हमने बहोत बार इस्तेमाल
भइओ और बहनो हमारा इस वेबसाइट को बनाने में एक बहोत बड़ा मक़सद है।

हमने बहोत लोगो को देखा हैं और हम काफी लोगो के मसलो का हाल किया हैं।

यह हमारी कोसिस हैं की कोई भी इंसान हमारे यह उम्मीद लेकर आए तो वो खली हाथ नहीं जाये।

पर आप हमरे यहा से कोई भी दुआ और वज़ीफ़ा बिना हमसे पूछे इस्तेमाल मत करना क्यों की हर इंसान का अपना अलग मसला होता हैं बिना मसले की जड़ को पकडे आप उसका मुकम्बल हल नहीं कर सकते हो उसके लिया आपको हमसे राब्ता करना होगा हमारे बताने के बाद आप दुआ और वज़ीफ़ा को इस्तेमाल में ले सकते हो।

यह दुआ और वज़ीफ़ा आप किसी गलत मक़सद में इस्तेमाल में मत लेना ऐसा करने पर आपको बहोत नुकसान हो सकता हैं और आप नहीं चाहोगे की आपको कोई नुकसान हो तो आप दुआ और वज़ीफ़ा का सही इस्तेमाल करो।

एक बहोत बड़ी बात हम आपको बताने जा रहे हैं आज कल मदत करने वाले बहोत काम होते हैं और लोगो का इस्तेमाल करने वाले लोग बहोत ज्यादा होते हैं
जो आपका बहोत गलत इस्तेमाल कर लेता हैं और वो आपके दिमाग के साथ खेलते हैं
आपके पसे और आपके वक़्त और आपकी उम्मीद सब ख़राब कर देता हैं ऐसे लोगो से सावधान रहो और सत्रक रहो।

लकिन सभी एक जैसे नहीं होते हैं जैसे हमारे हाथो की पांचो ऊँगली एक सामान नहीं होती हैं वसे ही सभी एक जैसे नहीं होते हैं हर इंसान एक जस नहीं होता हैं

ऐसे लोग सभी मौलाना और सभी पाक इंसान को ख़राब करते हैं और सभी से भरोसा उठा देता हैं आप किसी एक इंसान की गलती के वज़ह से किसी भी पाक मौलाना या पाक इंसान पर भरोसा करने से डरते हो और अपने मसले में उलझ कर रहा जाते हो ।

इसका एक ही हल हैं की आप को खुद इंसान की पहचान करनी आनी चाहिए जब तक आप इंसान की पहचान नहीं कर पाओगे तक आप कुछ नहीं कर पाओगे । आपको हिम्मत रखनी होगी अपने मसले को हल करने क लिया अगर आप हिम्मत से काम नहीं लोगो तो आप अपने मक़सद में कामयाब नहीं हो पाओगे ।

हम यही कहेगा की जब तक आपके मसले का हल नहीं हो जाये तब तक आप जिस पाक मौलाना से अपने मसले का हल करवा रहे हो उसकी इज़त करो और उसको आपके मसले का हल करने में सहयोग करो क्यों की वह आपका मसला हल कर रहे हैं तो यह आपको करना चाहिए ।

अगर आपको हमसे किसी वज़ीफ़ा या दुआ के बारे में कुछ पूछना हैं या हमरी किसी पाक दुआ या पाक वज़ीफ़ा के बारे में आपको किसी तरह की हमसे मदत चिहए तो

आप हमसे राब्ता करे हम आपकी जल्द और जरूर मदत करेंगे इंशा अल्लाह आपको आपके मक़सद में कामयाब हासिल होगी आप बेफिककर होकर हमें अपने मसले के बारे में बताये

महोब्बत का वज़ीफ़ा ( Best wazifas )
असीम खान जी

अल्लाह हाफिज